सैनिक जीवन पर निबंध

प्रस्तावना

सैनिको की जिंदगी बेहद  कठिन होती है। उनका जीवन जोखिमों से भरा हुआ  होता है।  वह निडर और सच्चे देशभक्त होते है।  वह देश की सुरक्षा के लिए हमेशा तैनात रहते है। वह देश की सेवा पूरे निष्ठा से करते है। वह हमेशा सतर्क और सावधान रहते  है और देश के दुश्मनो के छक्के छुड़ाते  है। वह देश के सीमा पर तैनात रहते  है और दुश्मनो से देश और हम नागरिको की रखवाली करते  है। सैनिको की जिम्मेदारी होती है कि वह देश और देशवासियों की हमेशा हिफाज़त करे। सैनिको की बहादुरी के लिए हम उन्हें सलाम करते है।

सैनिक के जीवन में अनगिनत चुनौतियां होती है।  जब देश पर मुसीबत आती है तो वह बेझिझक अपने जीवन को न्यौछावर कर देते है। देश के हम नागरिक अपने और परिवारों से जुड़े चिंताओं में लगे  रहते है जबकि सैनिक हर पल देश की रक्षा में लगा रहता है। सैनिक बनने से पूर्व वह कड़े प्रशिक्षण से गुजरता  है।सैनिक अपनी जिम्मेदारी जानते है और उनके लिए अपने परिवार से बड़ा देश होता है। सैनिक बर्फीले पहाड़ो और दिन रात सीमाओं पर खड़े होकर देश की  रक्षा करते है। वह  किसी भी मौसम के परेशानियों को झेल सकते है।

सैनिक को भूख प्यास की कोई चिंता नहीं होती है। सैनिक संयम के साथ अपने दुश्मन का सामना करता है। अगर गोली भी लग जाए तो आखरी सांस  तक वह  शत्रु से मुकाबला करते  है। वह मुश्किल से मुश्किल परिस्थितियों  में भी घबराते नहीं है और अपने प्राणो की आहुति देने में पीछे नहीं हटते है।

कठिन से कठिन परिस्थिति में भी सैनिक अपना धीरज नहीं खोते  है। अगर दुश्मन देश किसी कारण उन्हें कैद भी कर ले तो भी किसी भी हालत में वह अपने देश के सुरक्षा से जुड़ी उन्हें कोई जानकारी नहीं देते  है , भले ही उसकी जिन्दगी क्यों ना चली जाए।भले ही उनकी जिन्दगी मुसीबतों से घिर जाए , लेकिन वह कभी कोई सूचना दुश्मन देश के हाथ लगने नहीं देते है।

सैनिक युद्ध में निडर होकर दुश्मनो के वार का सामना करते है। वह कभी भी मैदान छोड़कर नहीं भागते है। साहस और निर्भयता सैनिक के विशेष और अनमोल गुण होते है। वह एक वीर की तरह शहीद होते  है और वीरगति को प्राप्त हो जाते  है। हमे अपने देश के सैनिको पर गर्व है।  उनके साहस की जितनी भी तारीफ़ की जाए उतनी ही कम है।

सैनिक हमेशा अनुशसासित जीवनयापन करते है। वह प्रत्येक कार्य समय पर करते है। जब कोई भी मुसीबत आती है ,तो वह सारे सिपाहियों के साथ भयंकर मुसीबत का सामना करता है। हर कार्य सैनिक वक़्त पर करता है। सैनिक अपने  कार्य और दायित्व समय पर पूरा करता है। सैनिक अपनी जान की परवाह किये बैगर देश की सुरक्षा करते है। सैनिको के जिन्दगी पर हमेशा खतरों के बादल मंडराते रहते है। वह सूझ-बुझ , संयम , बल के साथ शत्रुओं पर हमला करते है और उनके नापाक इरादों को परास्त करते है।

सैनिक अपने जिन्दगी में कई बलिदान करते है और उनका सारा जीवन देश की सुरक्षा हेतु केंद्रित रहता है। सैनिको का ध्यान हमेशा अपने देश की सुरक्षा पर टिका रहता है , उन्हें अपने निजी जीवन की ज़्यादा परवाह नहीं रहती है।

सैनिको का प्रशिक्षण बहुत ही मुश्किलों से भरा होता है। कुछ लोग प्रशिक्षण के लिए भर्ती तो होते है , लेकिन इतना सख्त प्रशिक्षण देखकर उनके होश उड़ जाते है और वह बीच में ही प्रशिक्षण छोड़कर भाग जाते है।सैनिक बनने  का ख्वाब तो बहुत लोग देखते है लेकिन पूरा सिर्फ उन्ही सैनिको का होता है जो इस कड़े प्रशिक्षण में पास होते है। 

सैनिको को हमेशा वर्दी पहननी पड़ती है और उनके बाल बिलकुल छोटे कर दिए जाते है। वह प्रत्येक दिन कठोर परिश्रम करते है और देश के सीमाओं पर निरंतर पहरेदारी करते है और अज्ञात व्यक्ति , गाड़ी की पहचान करते है ।अपने जिम्मेदारी को सम्पूर्ण निष्ठा के संग निभाते है और इसी बीच जंग लड़ते समय  उनकी मृत्यु भी हो जाती है।आम नागरिक सैनिक को हीरो मानते है।  अगर वह ना होते तो देश और आम नागरिक कभी भी सुरक्षित नहीं रह पाते ।

निष्कर्ष

सैनिक की बहादुरी के लिए सरकार उन्हें सम्मानित करता है। देश से असीमित प्रेम करना वाला मनुष्य ही सैनिक बन सकता है। सैनिक बनने के लिए अपने परिवार का भी बलिदान करना पड़ता है। सैनिक का प्रथम कर्त्तव्य अपने देश के प्रति होता है। हम भारतवासी सैनिको को सलाम करते है और उनका दिल से सम्मान करते है।  अगर सैनिक नहीं होते तो हम भी चैन से सामान्य जीवन व्यतीत नहीं कर पा रहे होते।

अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment