मेरा देश भारत पर निबंध | Mera Desh par nibandh

4.6/5 - (16 votes)

स्कूल के सभी विद्यार्थियों के लिए मेरा भारत देश पर निबंध की बहुत महत्वपूर्ण चर्चा होती है। हम सभी को यह जानना आवश्यक है कि हमारा देश कितना अद्भुत और विविध है। यहाँ हम सभी कक्षाओ -Class 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10,11,12 छोटे व बड़े निबंध जो की 200, 300, 500, 600, 700, 800, से 1000 शब्दों में प्रस्तुत है। मेरा देश भारत पर निबंध कॉलेज के छात्रों के लिए भी है। इस पोस्ट में हम “मेरा देश पर निबंध कैसे लिखें?” “हमारा भारत देश महान क्यों है?” “भारत एक सुंदर देश क्यों है? ” कुछ इस तरह के सवाल के जवाब भी मिलेंगे।

mera desh bharat par nibandh
मेरा देश भारत पर निबंध – Mera Desh Bharat par nibandh.

मेरा देश भारत पर निबंध (150 से 200 शब्दों में ) Mera Desh Bharat par nibandh

मेरा देश भारत: हम सभी का प्यारा देश भारत एक अद्वितीय भूगोलिक स्थिति वाला देश है, जिसमें हर तरह की प्राकृतिक सौंदर्यता देखने को मिलती है। हिमालय की ऊँची चोटियों से लेकर गरम खुदरा थार रेगिस्तान तक, यहाँ की प्राकृतिक विविधता दुनिया भर में मशहूर है।

भारत के सभी राज्यों में अपनी-अपनी भाषा, संस्कृति और त्योहार होते हैं, जो इसे और भी रंगीन बनाते हैं। हमारे देश में भिन्न-भिन्न जातियों, धर्मों, और संस्कृतियों का आपसी बंधन है, जिससे हम एकता और आपसी प्रेम की मिसाल प्रस्तुत करते हैं।

भारत का ऐतिहासिक धरोहर भी अत्यधिक महत्वपूर्ण है। हमारे महान पुरुषों ने अपने योगदान से स्वतंत्रता संग्राम से लेकर विज्ञान, साहित्य, और कला के क्षेत्र में भी दुनिया को प्रेरित किया है।

समाज में धार्मिक सामंजस्य और सामाजिक एकता भी हमारे देश की महत्वपूर्ण विशेषताएँ हैं। हमारे देश में विभिन्न धर्मों के लोगों के बीच सद्भाव और सहयोग का माहौल हमें मिलता है, जो हमें समृद्धि और खुशी की दिशा में आगे बढ़ने में मदद करता है।

इस प्रकार, हमारा प्यारा भारत एक विशेष और महत्वपूर्ण देश है, जिसमें विविधता, एकता, और प्रगति की अनमोल बुनाई है। हम सभी को गर्व है कि हम भारत के नागरिक हैं।

Also Read: मेरा प्यारा भारत वर्ष पर निबंध // 14 और 15 अगस्त (भारत-पाकिस्तान की आजादी) पर निबंध

मेरा देश भारत पर निबंध हिंदी में 300-400 शब्दों का

मेरा देश भारत: सोने की चिड़िया की धरोहर

भारत, एक ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, और भौगोलिक विविधता से भरपूर देश है, जो विभिन्न जातियों, धर्मों, भाषाओं और संस्कृतियों का घर है। यहाँ की समृद्धि, विविधता और एकता हमें गर्व महसूस कराती है। यहाँ के खूबसूरत प्राकृतिक सौंदर्य, महान विचारक, और ऐतिहासिक धरोहर के साथ एक अद्वितीय पहचान बनाता है।

ऐतिहासिकता की धारा

भारत वर्ष का इतिहास उसकी महानता की गहराईयों में बसा है। यहाँ आदिकाल से ही धार्मिक और आध्यात्मिक ज्ञान का केंद्र रहा है। महाभारत, रामायण, उपनिषदों की रचनाएँ इस भूमि की गरिमा को बढ़ाती हैं। यहाँ के महापुरुष और महिलाएँ ने समाज को उत्कृष्टता की दिशा में मार्गदर्शन किया है, जैसे महात्मा गांधी, भगत सिंह, रवींद्रनाथ टैगोर और मदर टेरेसा ने।

भौगोलिक विविधता और सौंदर्य

भारत का भौगोलिक सौंदर्य अद्वितीय है। हिमालय की चोटियों से लेकर गंगा घाटियों, थार रेगिस्तान से लेकर दक्षिण की खूबसूरत तटों तक, यहाँ की प्राकृतिक खूबीयाँ अनगिनत हैं। भारतीय वन्यजीवों की धरती पर विचरण करने का अद्वितीय अवसर है, जिसमें वन्यजीव संरक्षण और प्रजाति संरक्षण का महत्वपूर्ण भूमिका है।

भाषाएँ और संस्कृति

भारत भाषाओं की अद्भुत विविधता में समृद्ध है। हर राज्य में अपनी भाषा, संस्कृति और त्योहार होते हैं, जो इसे और भी रंगीन बनाते हैं। हमारी भाषाएँ हमारी पहचान होती हैं और इनके माध्यम से हम अपने भावनाओं को व्यक्त करते हैं।

महत्वपूर्ण स्थल और स्मारक

भारत में कई महत्वपूर्ण स्थल और स्मारक हैं, जैसे ताजमहल, खजुराहो, हवा महल, गोल्डन टेम्पल, कोणार्क सूर्य मंदिर आदि। ये स्थल उनकी विशेषता और ऐतिहासिक महत्व के लिए प्रसिद्ध हैं।

आज की उपयोगिता और प्रगति

आजकल के भारत में विज्ञान, प्रौद्योगिकी, मेडिकल, शिक्षा, और कई अन्य क्षेत्रों में उच्च स्तर की प्रगति हो रही है। भारतीय वैज्ञानिक, विशेषज्ञ, और उद्यमिता ने दुनिया में अपनी पहचान बना ली है।

नागरिकों की एकता और धर्मिक सामंजस्य

भारत के नागरिक धर्म, भाषा, और संस्कृति के साथ आपसी सद्भाव और भाईचारे की मिसाल प्रस्तुत करते हैं। यहाँ की धार्मिक तालिकाएँ और त्योहार विश्वभर में प्रसिद्ध हैं और इन्हें सभी समृद्ध विचारों की सम्मान मिलती है।

समापन

भारत अपनी ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, और भौगोलिक धरोहर के साथ एक महान देश है, जो विविधता, एकता, और प्रगति के प्रतीक के रूप में उभरता है। हम सभी भारतीय नागरिकों को इस महानतम देश की समृद्धि और सफलता के लिए मिलकर काम करने का संकल्प लेना चाहिए।

Also Read: महात्मा गाँधी पर निबंध // भगत सिंह पर निबंध // मदर टेरेसा पर निबंध

मेरा देश भारत पर निबंध हिंदी में (700-800) शब्दों में – My Country “India” Hindi Essay.

रूपरेखा: प्रस्तावना – मेरा देश भारत कृषि प्रधान देश – मेरे देश भारत की नदियां मेरे देश भारत की संस्कृति – मेरे देश भारत का कानून – मेरे देश भारत का विज्ञान – उपसंहार। यह निबंध Class 6,7,8,9,10th or higher standard के Students के लिए है।

प्रस्तावना (Introduction)

मेरा देश, भारत, एक ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहर से भरपूर देश है, जो अपनी अनूठी विविधता और समृद्धि के साथ विश्व में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। यहाँ की संस्कृति, विज्ञान, और प्रौद्योगिकी का मिलन साक्षात्कारी है, जो दुनिया भर में प्रशंसा पाता है। इस लेख में, हम मेरे देश भारत के महत्वपूर्ण पहलुओं को जानेंगे, जो इसे विशेष और अनोखे बनाते हैं।

मेरा देश भारत कृषि प्रधान देश (My Country is an Agricultural Country)

मेरा देश भारत, विश्व में एक महत्वपूर्ण कृषि प्रधान देश है, जिसकी आर्थिक व्यवस्था की आधारशिला कृषि पर टिकी हुई है। यहाँ के किसान अपने मेहनत और प्रेम से अनेजों को भरपूर आहार प्रदान करते हैं और देश की खाद्य सुरक्षा की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं। कृषि के अलावा, उद्योगों की विकास और मानव संसाधनों की मांग को पूरा करने के लिए भी मेरे देश भारत का योगदान अत्यधिक महत्वपूर्ण है।

मेरे देश भारत की नदियां (Rivers of My Country India)

मेरे देश भारत की नदियां, उसकी आर्थिक और सांस्कृतिक धरोहर का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। गंगा, यमुना, ब्रह्मपुत्र, सिंधु, और गोदावरी जैसी नदियां भारतीय सभ्यता के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। इन नदियों के किनारे बसे शहर, कस्बे और किले भारतीय इतिहास और संस्कृति के गहरे संकेत हैं।

मेरे देश भारत की संस्कृति (Culture of My Country India)

मेरे देश भारत की संस्कृति उसके अनूठे और समृद्ध विविधता का प्रतीक है। यहाँ की संस्कृति और परंपराएं हर क्षण में महसूस होती हैं, चाहे वह वस्त्र, भोजन, संगीत, नृत्य, या धार्मिक अनुष्ठानों में हो। मेरे देश भारत की संस्कृति ने समय के साथ अपनी अनमोल मूल्यों को सुरक्षित रखते हुए अपनी पहचान बनाई है और दुनिया भर में उच्च मानकों की स्थापना की है।

मेरे देश भारत का कानून (Law of My Country India)

मेरे देश भारत का कानून न्यायपालिका द्वारा संरक्षित और व्यवस्थित होने का प्रमुख स्रोत है। सभी नागरिकों के लिए समान अधिकार और कर्तव्य होते हैं, और वे यहाँ के कानूनों का पालन करने में संलग्न रहते हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए है कि समाज में न्याय और समानता का माहौल बना रहे।

मेरे देश भारत का विज्ञान (Science and Technology of My Country India)

मेरे देश भारत विज्ञान और प्रौद्योगिकी में भी अग्रणी है। यहाँ के वैज्ञानिक और अनुसंधानकर्ता नए और उन्नत तकनीकों का अध्ययन और विकास करने में लगे रहते हैं, जिनसे दुनिया के विभिन्न क्षेत्रों में योगदान दिया जा सकता है। मेरे देश भारत ने विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अपने अद्भुत और नवाचारी योगदानों से अपनी पहचान बनाई है।

उपसंहार (Conclusion)

मेरे देश भारत का विविधता, ऐतिहासिक महत्व, और विभिन्न क्षेत्रों में योगदान से यह एक महान देश है। इसकी कृषि, संस्कृति, कानून, और विज्ञान में उन्नति ने इसे विश्व में अलग बनाया है। मेरे देश भारत के योगदान ने उसे गर्वशील बनाया है और आने वाले समय में भी उसकी महत्वपूर्ण भूमिका को बनाए रखने के लिए तैयारी है।

Also Read: मेरा प्यारा देश भारत पर निबंध // देशभक्ति के महत्व पर निबंध // हर घर तिरंगा पर निबंध // यदि मैं भारत का प्रधानमंत्री होता पर निबंध // मेरे सपनों का भारत पर निबंध // भारत का राष्ट्रीय फूल “कमल” पर निबंध // भारतीय गाँव पर निबंध ||

मेरा देश भारत पर निबंध 900 से 1000 शब्दों में। Mera Desh Bharat par nibandh

भारत मेरा देश है और मुझे अपने देश पर गर्व है। मुझे अपने देश की परंपरा, सांस्कृतिक भावनाएं, जीवन मूल्यों पर गर्व है और हमेशा रहेगा। भारत यह दुनिया का सातवां सबसे विशाल और विस्तृत देश है। भारत दुनिया का दूसरा सबसे अधिक और घनी आबादी वाला देश है। भारत को इंडिया, हिंदुस्तान भी कहा जाता है। हमारे देश की राजधानी दिल्ली है। भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है, जो हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी धर्मो के लोगो को सामान मान्यता प्रदान करता है। भारत में 29 राज्य है और सभी राज्यों की अपनी विशेष भाषा है, और फिर भी हम सब भारतवासी एक सूत्र में बंधे हुए है। पौराणिक कथाओ के अनुसार हमारे देश का नाम प्राचीन हिन्दू राजा भरत के नाम पर पड़ा था। भारत की हड़प्पा और मोहनजोदड़ो की सभ्यता आज भी विश्व प्रसिद्ध है। देश की मिटटी और उसकी सुगंध के एहसास को ब्यान नहीं किया जा सकता है।

भारत को विविधताओं का देश कहा जाता है। हमारे देश के ड्राफ्टिंग कमेटी के अध्यक्ष डॉ बी आर अंबेडकर को भारतीय संविधान का पिता कहा जाता है। संविधान सभा के 389 सदस्यों ने देश से संबंधित सभी मुद्दों पर विस्तार से जांच करने के लिए समितियों का गठन किया था। हमारे देश के संविधान ने प्रत्येक देशवासी को बराबर के अधिकार दिए है। हमारा देश लोकतांत्रिक देश है, यहाँ प्रत्येक नागरिक को अपने विचारो को रखने का अधिकार है। भारत के पड़ोसी देश के नाम पाकिस्तान, नेपाल, बर्मा, बांग्लादेश, इंडोनेशिया, मलेशिया और श्रीलंका है।

हमारे देश की संस्कृति और गहन इतिहास पूरे विश्व को अपनी ओर आकर्षित करता है। यहाँ के ऐतिहासिक स्मारक, इमारतों की वास्तुकला, जन जीवन का दशकों और उसे भी पुराना इतिहास पर्यटको को सम्मोहित कर देते है। भारत अपनी पीढ़ियों से चली आ रही संस्कृति और परम्पराओ को संजोह कर रखना वाला देश है।

भारत में विभिन्न ऋतू का आगमन सबको देखने मिलता है। प्रत्येक ऋतू का अपना अलग महत्व होता है। भारत अपने सुन्दरता और मन को छू लेने वाले हिमालय पर्वत के लिए जाना जाता है। यह सर्वोच्च ऊंचा पर्वत है। यहां हमेशा बर्फ़-बारी होती है। हिमालय पर्वत देश को अनेक प्रकार के प्राकृतिक आपदाओं से बचाता है और देश को सुरक्षा प्रदान करता है। भारत में गंगा, यमुना, नर्मदा, ताप्ती , गोदावरी और कृष्णा जैसी विशाल नदियाँ बहती है। यह सभी नदियाँ कृषि की सिंचाई और उपज की दृषिकोण से महत्वपूर्ण है। लेकिन बढ़ते हुए प्रदूषण के कारण नदियाँ बुरी तरीके से प्रभावित हो रही है। नदियों का संरक्षण बेहद ज़रूरी है।

भारत का राष्ट्रीय पशु बाघ है, राष्ट्रीय पक्षी मोर है, राष्ट्रीय फूल कमल है, राष्ट्रीय फल आम है। भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा है, केसरिया, सफेद और हरा रंग के साथ अशोक चक्र है। भारत का राष्ट्रगान “जन गण मन” जिसे रबिन्द्र नाथ टैगोर ने लिखा था। राष्ट्रगान के बैगर कोई समारोह समाप्त नहीं होता। बंकिमचंद्र चटर्जी ने राष्ट्रीय गीत “वंदे मातरम” लिखा था। देश का राष्ट्रीय खेल हॉकी है लेकिन अधिकाँश लोग क्रिकेट को ज़्यादा पसंद करते है। अशोक स्तंभ भारत का राष्ट्रिय चिन्ह है।

भारत के प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद जी है और हिन्दुस्तान के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू थे। अंग्रेज़ो ने लगभग दो सौ वर्षो तक भारत पर राज किया, भारत को आर्थिक तौर पर लूटा और कमज़ोर किया। भारतीयों पर अत्याचार किये और फुट डालो, राज करो की नीति अपनाकर हिन्दू -मुस्लिम में फुट डालने का प्रयास किया। भारत के ऐतहासिक वीर जिन्होंने देश को स्वतंत्र कराने में अपने प्राणो की बलि चढ़ाई, चंद्रशेखर आज़ाद, भगतसिंग, नेताजी, रानी लक्ष्मी बायीं और कई स्वतंत्र सेनानी शामिल है।

भारत के विविध भाषाओं, विभिन्न धर्मो के बावजूद, लोग अपने दिलो में प्रेमभाव, अपनापन और भाईचारा रखते है। यह अनेकता में एकता का खूबसूरत उदाहरण है। आखिर कार 15 अगस्त 1947 को देश आज़ाद हुआ। छब्बीस जनवरी 1950 को भारत एक गणतांत्रिक देश के रूप में उभर कर आया। भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया की छटवी विशाल अर्थव्यवस्था है और देश की मुद्रा रुपया है।

भारत के प्रत्येक राज्यों में मंत्रमुग्ध कर देने वाले पर्यटन स्थल है, जो आपका मन जीत लेंगे। विश्व में लोकप्रिय इमारत ताजमहल है जिसे शाहजहां ने अपने बीवी मुमताज़ की याद में बनवाया था। भारत एक ऐसा देश है जहाँ ताजमहल, फतेहपुर सीकरी, स्वर्ण मंदिर, कुतुब मीनार, लाल किला, ऊटी, नीलगिरी, कश्मीर, खजुराहो, अजंता और एलोरा की गुफाएँ, आदि प्रसिद्ध इमारत साथ ही  उसकी वास्तुकला और नक्काशी मौजूद हैं। यह महान नदियों, पहाड़ों, घाटियों, झीलों और महासागरों का देश है।

महान नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों का देश हमारा भारत  है। हमारे देश को आतंकवादियों से बचाने के लिए भारतीय सैनिक सीमाओं पर हमेशा तैनात रहते हैं। छत्रपति शिवाजी, महात्मा गांधी, नेताजी , जवाहरलाल नेहरू, डॉ बाबासाहेब अम्बेडकर, आदि जैसे महान नेता ने देश और देशवासियों को सही मार्ग दिखाया है। अगर यह नहीं होते तो देश को आज़ादी दिलाना मुश्किल हो जाता। ऐसे कई अज्ञात नाम है , जो इतिहास के किताबो में मौजूद नहीं है, लेकिन उन्होंने भी देश हित के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया था।

भारत में सभी धर्मो के अनुरूप लोग उत्सव मनाते है।  भारत में रंगो का त्यौहार होली, रोशनी से भरपूर दीपावली, रक्षा बंधन, भाई -बहनो का त्यौहार, दशहरा , ईद , क्रिसमस , लोहड़ी , पोंगल  सभी तरह के उत्सव लोग मना सकते है। भारत का भोजन दुनिया भर में लोकप्रिय है। 

सभी राज्यों के अपने-अपने विशेष भोजन होते है जिसका मज़ा हम सब देश वासी उठाते है। सभी राज्यों के अपने लज़्ज़तदार व्यंजन है, चाहे वह सरसो के साग से लेकर दक्षिण भारत के इडली डोसे तक, सभी लोग इस भोजन का आनंद उठाते है। रामायण, महाभारत और भगवतगीता जैसे साहित्य और उसके मूल्य हमे ज़िन्दगी के पथ पर चलना  और सही -गलत में फर्क करना सिखाते है।

आज हम चैन और आज़ादी से घूम रहे है, अपने बातों को सबके समक्ष रख रहे है और रातों को चैन की नींद सो रहे है तो इसका श्रेय हमारे देश के सभी सुरक्षा बलों को जाता है। हमें अपने भारतीय सैनिक पर गर्व है, वह पूरी रात जागकर देश सेवा करते है, ताकि देशवासी सुरक्षित रह सके।

निष्कर्ष: इस देश पर मुझे और सभी देशवासी को नाज़ है। हम अलग-अलग भाषाएं बोलते हैं और कई  देवी -देवताओं की पूजा करते हैं। फिर भी हम सभी भारतीयों की संभावनाएं वही है। इतनी सादगी और अपनापन इस देश से बेहतर हमे और कहीं नहीं मिलेगा। इन विविधताओं के बावजूद हम सब एक है। ठीक उसी प्रकार जैसे  एक फूलों की माला में, कई प्रकार के फूल होते है, सबके अपने रंग और विशेष सुगंध है लेकिन एक साथ एकाकृत है। विविधता में, हमारे देश की महान एकता बसी हुई है। यह वह देश है जो अपनी विविधता, मजबूत एकता, और शांति के लिए विश्वभर में मशहूर है। सभी देशवासी में देशप्रेम की भावना कूट -कूट कर भरी है। हमे फक्र है अपने हिन्दुस्तान पर।

Also Read: मेरा प्यारा देश भारत पर निबंध // देशभक्ति के महत्व पर निबंध // हर घर तिरंगा पर निबंध // यदि मैं भारत का प्रधानमंत्री होता पर निबंध // मेरे सपनों का भारत पर निबंध // भारत का राष्ट्रीय फूल “कमल” पर निबंध // भारतीय गाँव पर निबंध ||

मेरे देश भारत पर 10 लाइन

मेरा देश भारत पर निबंध | Mera Desh par nibandh 1

Also Read: 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर निबंध // भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों पर निबंध // मेरा तिरंगा, मेरा अभिमान पर निबंध

#सम्बंधित :- Hindi essay, Hindi Paragraph, हिंदी निबंध।

5 thoughts on “मेरा देश भारत पर निबंध | Mera Desh par nibandh”

  1. useful and good essay but it is very big so i request the producer to highlight some main so that it is very easy to write it and to understand it.thank you.

    Reply

Leave a Comment