मेरा सच्चा मित्र पर निबंध

मेरा मित्र / मेरा सच्चा मित्र पर निबंध

जीवन में सच्चा मित्र मिलना किसी खजाने से कम नहीं है। मेरे भी अनेक मित्र हैं, परंतु पवन मेरा सच्चा और सबसे प्रिय मित्र है। मुझे उसकी मित्रता पर गर्व है। हमारी मित्रता को विद्यालय एवं पड़ोस में एक आदर्श के रूप में देखा जाता है, क्योंकि हमारी दोस्ती स्वार्थ पर आधारित नहीं है।

पवन एक अमीर परिवार से है। उसके पिता एक प्रसिद्ध डॉक्टर हैं। उसकी माँ अध्यापिका हैं। पवन उनका इकलौता पुत्र है। उसकी एक छोटी बहन भी है। दोनों बहन-भाई में बड़ा स्नेह है। उसके सारे परिवार का जीवन बड़ा ही नियमित है और पवन भी एक अनुशासन प्रिय बालक है। वह अपने माता-पिता की हर बात को सहर्ष मानता है। उसमें एक अच्छे पुत्र के सभी गुण विद्यमान हैं।

पवन मेरी कक्षा में ही पढ़ता है। हम दोनों एक ही डेस्क पर बैठते हैं। वह हमेशा चित्त लगाकर पढ़ाई करता है। सभी शिक्षक उससे प्रसन्न रहते हैं। वह पढ़ाई में बहुत होशियार है। वह हर वर्ष परीक्षा में 90 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करता है। सभी को विश्वास है कि वह बोर्ड की परीक्षा में स्कूल का नाम अवश्य उज्ज्वल करेगा। वह अपना गृहकार्य (होमवर्क) समय पर करता है और नियमित रूप से उसकी जाँच करवाता है। वह सदैव पुस्तकालय से पुस्तकें लेकर अपना ज्ञान बढ़ाता रहता है। मैं उसके नोट्स से काफी मदद लेता हूँ।

मेरा मित्र पवन बड़ा होकर डॉक्टर बनना चाहता है। वह अपने लक्ष्य के प्रति अभी से सचेष्ट है। वह मुझे भी इस दिशा में प्रेरित करता रहता है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि बड़ा होकर वह अपना लक्ष्य अवश्य प्राप्त करेगा।
पवन मेरे पड़ोस में ही रहता है। वह सदैव मधुर बोलता है। घमंड तो उसमें नाममात्र भी नहीं है। हम दोनों प्रातः प्रतिदिन सैर करने जाते हैं। दो-तीन किलोमीटर की सैर करने के पश्चात् हम बगीचे में व्यायाम करते हैं। फिर घर वापस आते हैं। हम शाम को दो घंटे एक साथ मिलकर पढ़ते हैं। उसके माता-पिता मुझे भी अपना पुत्र जैसा ही मानते हैं। हम दोनों के परिवारों में घनिष्ठ संबंध हैं।

मेरा मित्र पवन स्वभाव से बहुत अच्छा है। विनम्रता उसका गुण है। वह सदैव बड़ों का आदर-सम्मान करता है। पढ़ने के अलावा खेल-कूद _ में भी वह सदा आगे रहता है। हम दोनों स्कूल की क्रिकेट टीम में मिलकर खेलते हैं और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भी हिस्सा लेते हैं। ___ मैं ईश्वर से उसकी दीर्घायु की कामना करता हूँ। मैं चाहता हूँ कि हमारी मित्रता सदैव बनी रहे।

#संबंधित :- Hindi Essay, Hindi Paragraph, हिंदी निबंध। 

अपने दोस्तों को share करे:

Leave a Comment