समय का महत्व पर निबंध

समय की भूमिका:- समय का हमारे जीवन में अति महत्वपूर्ण स्थान है समय सभी वस्तुओं से यहां तक कि धन से भी अधिक शक्तिशाली और अमूल्य वस्तु है यदि एक बार ये हमारे हाथ से निकल गया तो फिर यह वापस लौटकर नहीं आता है।

स्वामी विवेकानंद के अनुसार

” एक समय में एक काम करो और ऐसा करते समय
अपनी पूरी आत्मा उसमें डाल दो
और बाकी सब कुछ भूल जाओ.”

चाणक्य के अनुसार

“किसी व्यक्ति की वर्तमान स्थिति को.
देखकर उसके भविष्य का मजाक ना उड़ाओ
क्योंकि कल में इतनी शक्ति है कि.
वह एक मामूली कोयले के टुकड़े को हीरे में
तबदिल कर सकता है.”

समय है तो मान ले की जीवन है और समय नहीं तो जीवन भी नहीं समय को वापस नहीं किया जा सकता और ना खोया गया समय को वापस पाए जा सकता है इसलिए हर व्यक्ति को समय का सही उपयोग करना चाहिए कहा भी गया है।

” पुरुष बली नहीं होत है
समय होत बलवान। “

अर्थात व्यक्ति बलवान नही होता समय बलवान होता है।यह बात भी सत्य है कि जो व्यक्ति समय की अहमियत नहीं समझता समय भी उस व्यक्ति की अहमियत को नहीं समझता।

अगर हम हमारे समय को नष्ट करते हैं तो समय भी हमें बुरी तरह से नष्ट करता है समय किसी की भी प्रतीक्षा नहीं करता इस विषय पर कबीर दास जी ने इस विषय पर बोहोत अच्छी बात कही है।

“काल करे सो आज कर
आज करे सो अब
पल में प्रलय होगी
बहुरि करेगा कब.”

कबीर दास जी ने इस दोहे में समय की महत्व बताते हुए कहा है कि जो कल करना है उसे आज करो और जो आज करना है उसे अभी करो कुछ ही समय में जीवन खत्म हो जाएगा फिर तुम क्या कर पाओगे यानी समय हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है और समय में किया काम उतना ही जीवन को आसान बना देता है।

समय प्रबंधन:- सभी कार्यों को करने का अलग-अलग समय होता है अव्यवस्थित कार्य हमारे जीवन में बहुत उलझन और परेशानियां लाता है लेकिन यही काम अगर हम सोच विचार कर प्रस्तुत करके करें तो हमें हमारे कामों में समय प्रबंधन से एक दक्षता मिलती है इसे हमारे कार्य की प्राथमिकता बढती है और कार्य सही समय पर होता है समय का प्रबंधन करने के लिए हमें हमारे रोज की दिनचर्या को रोज की बातों को एक डायरी में लिखे इससे आपको पता चलेगा कि आप आपकी कितनी उपयोगी बातों को कितना समय देते हो और कितना समय और अनुउपयोगी बातें को देते हैं किसी भी कार्य को करने के लिए समय की योजना बनाकर कार्य करें उसके अनुसार ही अपने कार्यों का निष्पादन करें इस प्रकार समय प्रबंधन हमारे जीवन के प्रति कार्य को एक क्रम देकर कार्य की प्राथमिकता को स्वयं ही तय कर देता है.

हमारे जीवन में समय सीमित है:- हम मनुष्य के जीवन में समय अति महत्वपूर्ण होता है और यह समय भगवान ने हमें सीमित रूप से ही दिया है हमें भगवान द्वारा दिए हमारे जीवन की सीमित समय का सही समय पर प्रयोग करना चाहिए इस नपे तुले जीवन को हमें बहुत ही गंभीरता के साथ प्रयोग करना चाहिए बेकार के कामों से हमें हमारे सीमित समय को बचाना चाहिए क्योंकि अगर हम बेकार के कामो में लग जाते हैं तो बहुत सा समय हमारा खराब हो जाता है एक कहावत है।

“अब पछताए होत क्या
जब चिड़िया चुग गई खेत। “

इस प्रकार प्रत्येक बुद्धिमान व्यक्ति समय के महत्व को समझता है हमारा जीवन समय से जुड़ा हुआ है उस में एक पल की भी वृद्धि होना असंभव है जिस देश के व्यक्ति समय के महत्व को समझ जाते हैं वही देश समृद्ध हो सकता है समय का सदुपयोग से ही मनुष्य निर्धन, निर्बल ,अमीर,मूर्ख ,सबल बन जाता है परंतु समय ही मनुष्य को उसकी विद्वान और उसके असली पहचान प्रदान करता है.

समय का महत्व:- समय जिस का नाही कोई शुरुआत है और ना ही कोई अंत यह बहुत ही शक्तिशाली होता है यदि एक बार ये कीमती समय हमारे हाथ से चला गया तो यह हमेशा के लिए चला जाता है कभी वापस लौटकर नहीं आता क्योंकि यह समय हमेशा आगे की ओर चलता है पीछे की दिशा में नहीं हमारे दैनिक कार्य जैसे स्कूल कार्य ,ग्रह कार्य, सोने के घंटे,जागने का समय ,व्यायाम, भोजन करना आदि योजना अनुसार ओर समय अनुसार होना चाहिए हमें कठिन परिश्रम करने का आनंद लेना चाहिए कभी अपनी अच्छी आदतों को बाद में करने के लिए टालना नहीं चाहिए हमें समय के महत्व को समझना चाहिए और इसका प्रयोग रचनात्मक ढंग से करना चाहिए ।

समय के महत्व पर कुछ अनमोल विचार। 


समय पैसा है। बेंजामिन फ्रैंकलिन।
यदि आप एक समय में दो कार्य कर रहे हैं
तो इसका अर्थ है कि आप दोनों ही कार्य नहीं कर रहे हैं

…पबिलयस सायरस


जिसे जो काम जब करना चाहिए
उस समय उसी काम को करना समय का प्रबंधन है

…डॉक्टर विजय अग्रवाल.


अपने मिनटों का ध्यान रखें
धंटे अपना ध्यान खुद रख लेते।

…लॉर्ड चेस्टरफील्ड.


उपसंहार
समय का सदुपयोग हमारे जीवन की उन्नति की कुंजी है वह लोग जीवन में सफल बनते हैं जो समय का सही तरीके से प्रयोग करते हैं जिससे हमारे जीवन में समन्वय बना रहता है संत महात्मा और संसार के जितने भी महान व्यक्ति थे उनका हम कई यूगो के बाद भी याद करते हैं क्योंकि वह समय के मूल्य को पहचानते थे उन्होंने हर कार्य को समय पर करने की प्रेरणा दी जो घड़ी हम हाथ में बांध कर चलते हैं वह हमसे कहती है कि मेरे साथ चलो भले ही आगे चलो पर मेरे से पीछे हो कर नहीं चलना क्योंकि साथ चलने से सदा जीवन सुखी रहता है और समय सोने से भी अधिक मूल्यवान है और इसकी कीमत समय पर ही समझना जरूरी है।

#सम्बंधित:- Hindi Essay, हिंदी निबंध। 

Leave a comment