मेरी महत्वाकांक्षा पर निबंध

मेरी महत्वाकांक्षा। kids Essay on My Aim in life in hindi

महत्वाकांक्षा का अर्थ है जीवन में मुझे क्या बनना है। हर महत्वाकांक्षा का जीवन में अपना महत्व है। इसके बिना जीवन अधूरा रहता है। बिना महत्वाकांक्षा के व्यक्ति उन्नति नहीं कर सकता। जब तक इच्छा न हो तो साधन नहीं बन पाते। पहले मन में इच्छा आती है। और फिर साधन व साधना। जितने भी सफल नर-नारी हुए हैं, उन्होंने सदैव अपनी इच्छा को सामने रखकर कठोर परिश्रम किया है।

अपनी महत्वाकांक्षा की पहचान जितनी जल्दी हो जाये उतना ही अच्छा। मेरी इच्छा एक डॉक्टर बनने की है। मेरे पिता भी एक प्रसिद्ध डॉक्टर हैं। उनका अपना क्लिनिक है। इस तरह डॉक्टरी मुझे विरासत में मिली है। भारत में अच्छे डॉक्टरों की बड़ी जरूरत है। यहां पर मरीज अधिक हैं और अच्छे डॉक्टर कम हैं, गावों में विलकुल कम। डॉक्टर बनकर देश और देशवासियों की सेवा करना मेरा ध्येय है।

परन्तु लक्ष्य हमेशा ऐसा होना चाहिए जिसे हासिल भी किया जा सके। जब सपने पूरे नहीं होते तो दुःख, निराशा व असफलता ही मिलती है। हवाई किले बनाने से समय की बर्बादी ही होती है। इसलिए हर व्यक्ति को ईमानदारी से अपनी क्षमताओं का आकलन करना चाहिए। अपनी खूबियों व कमियों को पहचानना चाहिए जिससे लक्ष्य का चयन करने में आसानी हो।

मेरे माता-पिता भी मेरी महत्वाकांक्षा से सहमत हैं। वे इसे उचित चुनाव मानते हैं। इसी को लक्ष्य में रखकर मैं परिश्रम कर रहा हूँ। विज्ञान के विषयों में मेरी विशेष रुचि है। इन विषयों में मेरे अंक हमेशा अच्छे होते हैं। स्कूल की जूनियर रेड क्रॉस सोसाइटी का मैं चेयरमैन हूँ। इसके कार्यों में मैं रुचि लेता हूँ। प्राथमिक उपचार में मैंने एक विशेष कोर्स किया हुआ है। नर्सिंग के बारे में भी मेरी अच्छी जानकारी है। इन सब कार्यों में मुझे अपने पिताजी से बड़ा सहयोग और मार्गदर्शन मिलता है।

#सम्बंधित:- Hindi Essay, हिंदी निबंध। 

यह हिंदी निबंध आपको कितना पसंद आया ?

Rating के जरिए हमें बताएं ताकि हम इसे ओर बेहतर बना सके।

Average rating / 5. Vote count:

Leave a comment