शूटिंग या निशानेबाजी पर निबंध

दौड़ पर निबंध

आपने अपनी सामान्य ज्ञान पुस्तकों, न्यूज चैनलों तथा अखबारों में छपने वाले लेखों में “अभिनव बिंद्रा” नाम के भारतीय खिलाड़ी का नाम अक्सर पढ़ा होगा। अभिनव बिंद्रा वह खिलाड़ी हैं, …

पूरा पढ़ें »

बास्केटबॉल खेल पर निबंध

दौड़ पर निबंध

बास्केटबॉल खेल पर निबंध-basketball par nibandh विश्व में विभिन्न प्रकार के खेलों का चलन है। जिनमें से बास्केटबॉल खेल विश्व के सर्वाधिक लोकप्रिय तथा व्यापक खेलों में से एक है। …

पूरा पढ़ें »

बॉक्सिंग या मुक्केबाजी खेल पर निबंध

दौड़ पर निबंध

बॉक्सिंग या मुक्केबाजी खेल पर निबंध-boxing par nibandh अन्तर्राष्ट्रीय खेलों की श्रेणी में आने वाला बॉक्सिंग अथवा मुक्केबाजी का खेल एक मार्शल कला है। आधुनिक समय में दुनिया के अधिकतर …

पूरा पढ़ें »

पुस्तक मेला पर निबंध

पुस्तक मेला पर निबंध-pustak mela essay in hindi पुस्तकें मनुष्य  के सच्चे  साथी होते  है। पुस्तकें ना केवल मनुष्य का ज्ञान बढ़ाती है बल्कि उनके व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव भी …

पूरा पढ़ें »

टेनिस खेल पर निबंध-Essay On Tennis In Hindi

दौड़ पर निबंध

टेनिस खेल पर निबंध- Tennis par nibandh टेबल टेनिस एक आउटडोर यानि घर से बाहर खेले जाने वाला खेल है। यह एक ऐसा खेल है, जो कि दुनियाभर में लोकप्रिय …

पूरा पढ़ें »

बाल मजदूरी पर निबंध

बाल मजदूरी पर निबंध

प्रस्तावना: आजादी के इतने वर्षो बाद भी बाल मज़दूरी हमारे देश के लिए एक अभिशाप बना हुआ है। देश के साक्षरता दर में काफी उन्नति हुयी है।  लेकिन गरीबी और …

पूरा पढ़ें »

नागरिक के कर्त्तव्य पर निबंध

नागरिक के कर्त्तव्य पर निबंध 1

अच्छे जीवन की ज़रूरत के लिए देश के नागरिको को कुछ अधिकार दिए गए है।  जहां अधिकार होते है, वहाँ कुछ ज़िम्मेदारियाँ भी होती है। मौलिक अधिकारों की रक्षा के …

पूरा पढ़ें »

विद्यार्थी जीवन में चुनौतियां निबंध

विद्यार्थी जीवन में चुनौतियां निबंध

विद्यार्थियों का जीवन चुनौतियों से भरा हुआ होता है।  वह शिक्षा प्राप्त करते है और परीक्षाओ में उत्तीर्ण होना पड़ता है।  कई सारे विषयो की पढ़ाई के साथ विद्यालय के …

पूरा पढ़ें »

जैसा खाए अन्न , वैसा बने मन निबंध

जैसा खाए अन्न, वैसा बने मन निबंध

प्रस्तावना: भोजन सभी के ज़िन्दगी में महत्वपूर्ण है। भोजन का सेवन करने से हमे कार्य करने की क्षमता मिलती है। जैसा हम खाना खाते है उसका असर हमारे मन और …

पूरा पढ़ें »

बैंक पर निबंध

Bank par nibandh

बैंक पर निबंध-Bank par nibandh प्रस्तावना: बैंक ना हो तो देश की आर्थिक व्यवस्था इधर उधर हो जायेगी। बैंक एक ऐसा सुरक्षित  संस्थान है जहां लोग विश्वास के साथ अपने …

पूरा पढ़ें »