धन पर निबंध

प्रस्तावना धन एक ऐसा स्रोत जिसके माध्यम से किसी भी वस्तु को हम जब चाहे  खरीद सकते है और साथ ही अपनी ज़रूरतों को पूरा कर सकते है। धन के …

पूरा पढ़ें »

सर्कस पर निबंध

प्रस्तावना: मनुष्य के आनंद के लिए कई तरह के मनोरंजन के साधन है। यह एक ऐसा मनोरंजन भरा कार्यक्रम है जिसमे मनुष्य , पशु पक्षी विभिन्न तरह के कार्यक्रम करते …

पूरा पढ़ें »

कृषि पर निबंध

प्रस्तावना कृषि कृषक द्वारा फसल उत्पादन हेतु किया जाता है।  कृषि के  अंतर्गत फल , सब्ज़ी , विविध तरह के अनाज , फूलो की खेती , पशु पालन , मत्सय …

पूरा पढ़ें »

आधुनिक विद्यार्थी जीवन पर निबंध

ऐसा कोई इंसान नहीं है जिसे विद्यार्थी जीवन से नहीं गुजरना पड़ता है। विद्यार्थी जीवन में विद्यार्थियों को अनुशासन , अच्छी शिक्षा और अच्छे मूल्यों को सिखाया जाता है। विद्यार्थी …

पूरा पढ़ें »

विद्यार्थी जीवन पर निबंध

प्रस्तावना विद्यार्थी जीवन सांसारिक जीवन के परेशानियों से मुक्त होता है।  विद्यार्थी जीवन के सुनहरे पल सभी को याद रहते है। विद्यार्थी जीवन में विद्यार्थी मन लगाकर पढ़ते है और …

पूरा पढ़ें »

कोरोना का समाज पर प्रभाव

प्रस्तावना: कोरोना संकटकाल पिछले साल से अब तक बनी हुयी है। कोरोना की वजह से  दुनिया भर में कई परिवारों ने अपनों को खो दिया है। रोज हर जगह कोरोना …

पूरा पढ़ें »

प्लास्टिक की थैलियों के दुष्प्रभाव

प्लास्टिक की थैलियों के दुष्प्रभाव*** प्रस्तावना आज हम वैज्ञानिक युग में है इस युग में रहते हुए हम यह अनुभव करते हैं। और यह हम देखते हैं कि विज्ञान हमें …

पूरा पढ़ें »

समय बहुमूल्य

प्रस्तावना समय हमारे जीवन के लिए महत्वपूर्ण है। ओर समय को पकड़कर चलना जीवन में सफलता की सबसे बड़ी कुन्जी है। समय निष्ठा का पालन करने वाला मनुष्य सबसे अच्छे …

पूरा पढ़ें »

अपनी सीमा से ज्यादा ना सोचे

प्रस्तावना तेते पांव पसारिए ,जेती लंबी सौर इस पंक्ति का तात्पर्य है कि व्यक्ति को अपनी सीमाओं का अतिक्रमण नहीं करना चाहिए। जीवन में अपनी इच्छाओं को नहीं अपनी जरूरतों …

पूरा पढ़ें »

विकलांगता की समस्या और समाधान

प्रस्तावना हमारे देश में समस्याओं के विभिन्न रूप प्रतिशत दिखाई देते हैं विरोध प्रतिरूप छोटे-बड़े सूचना तथा व्यापक दोनों ही रूपों में देश के किसी ना किसी भाग में अवश्य …

पूरा पढ़ें »

यदि में परीक्षक होता

प्रस्तावना संसार मव सबसे पीड़ित प्राणी विद्यार्थी माना जा सकता है।क्योंकि विद्यर्थि को अनेक कष्टों का सामना करनस पड़ता है।नियमित पढ़ाई करना,परीक्षा में उत्तीण होना ,बड़ा ही कठिन काम है।इसलिए …

पूरा पढ़ें »