प्रकृतिक विपदा: सूखा पर निबंध

sukha-par-nibandh

प्रस्तावना: मानव सदा से प्रकृति पर विजय प्राप्त करने का अभिलाषी रहा है। प्रकृति को अनेक रहस्यों को सुलझाकर, उन पर विजय प्राप्त करके ओर उनसे लाभ प्राप्त करके वह …

पूरा पढ़ें »प्रकृतिक विपदा: सूखा पर निबंध